शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,फीरोजाबाद:सरकारनेपरिषदीयस्कूलोंमेंपढ़नेवालेसभीछात्र-छात्राओंकोतीसनवंबरतकस्वेटरबांटनेकेनिर्देशदिएथे,लेकिनयहांनिर्देशोंकोठंडेबस्तेमेंडालदिया।अधिकांशस्कूलोंमेंसौफीसदछात्र-छात्राओंकोस्वेटरकावितरणनहींहोसकाहै।गुरुवारकोसर्दहवाओंएवंबूंदाबांदीनेछात्र-छात्राओंकीचिताऔरबढ़ादी।

परिषदीयस्कूलोंमेंपढ़नेवालेछात्र-छात्राओंकोनिश्शुल्कदोजोड़ीड्रेस,जूते,मोजे,बैग,पुस्तकेंएवंस्वेटरउपलब्धकराएजातेहैं।इसबारसरकारनेतीसनवंबरतकशतप्रतिशतस्वेटरवितरणकरनेकासमयनिर्धारितकियाथा,लेकिनदिसंबरमें12दिनगुजरनेकेबादभीसभीछात्र-छात्राओंकोस्वेटरनहींमिलसकेहैं।नगरक्षेत्रकेउच्चप्राथमिकस्कूलदीदामईमें209छात्र-छात्राओंपंजीकृतहैं,लेकिनमात्र64कोहीस्वेटरमिलसकेहैं।

गुरुवारकोजागरणटीमस्कूलपहुंचीतोकक्षाछहसेआठतकके145छात्र-छात्राएंबिनास्वेटरमिले।प्रधानाध्यापिकासमसुलकमरनेबतायाकिकईबारइससंबंधमेंअधिकारियोंकोअवगतकराया,लेकिनअभीतकस्वेटरउपलब्धनहींकराएगएहैं।कुछऐसाहीउच्चप्राथमिकस्कूलरहनाकाहै।यहांपंजीकृत265मेंसे26छात्र-छात्राओंकोअभीतकस्वेटरनहींमिलसकेहैं।प्रधानाध्यापकमुनीषशर्मानेबतायाकिवित्तीयवर्ष2018-19केछात्रसंख्याकेआधारपरहीस्वेटरमिलेहैं।जिनकानयादाखिलाहुआहै,उन्हेंनहींमिलेहैं।नगरएवंदेहातकेअधिकांशस्कूलोंकायहीहालहै।

बोलेछात्र-छात्राएं,हमेंभीलगतीहैसर्दी

सर्दीशुरूहोगईहै,लेकिनअभीतकमुझेस्वेटरनहींमिलाहै।जिसकेकारणबिनास्वेटरकेहीस्कूलआनापड़ताहै।सर्दीलगतीरहतीहै।

फोटो-6किसीछात्र-छात्राओंकोछोटेस्वेटरमिलेहैं,तोकिसीकोमिलाहीनहींहै।कक्षाओंमेंपढ़नेपरसर्दीलगतीहैऔरअगरमैदानमेंबैठेंतोसर्दहवाओंसेठिठुरजातेहैं।

फोटो-7सरकारकीमंशाकेअनुरूपसभीछात्र-छात्राओंकोस्वेटरवितरणहोजानेचाहिए।अगरकिसीस्कूलमेंनहींबांटेगएहैंतोजांचकराकरकार्रवाईकीजाएगी।

अरविदपाठक,बीएसए

By Daniels