शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,सातफरवरी:भाषा:नर्सरीदाखिलेकेलिएपड़ोसकेमापदंडपरदिल्लीसरकारकीअधिसूचनाकोचुनौतीदेनेवालीयाचिकाओंपरफैसलाकरनेसेपहलेदिल्लीउच्चन्यायालयनेकाफीकमसमयहोनेकाउल्लेखकरतेहुएआजकहाकिकाफीकमवक्तमेंतेजीसेकामकरनाहै।सुनवाईकीशुरूआतमेंन्यायमूर्तिमनमोहननेकहा,काफीकमवक्तमेंतेजीसेकामकरनाहै।हमारेपासबहुतकमसमयहैजिसकेपहलेइसमामलेपरफैसलाकियाजानाहै।अदालतकीटिप्पणीकाइसलिएमहत्वहैक्योंकिस्कूलोंमेंनर्सरीमेंदाखिलेकेलिएआवेदनकरनेकीप्रक्रिया14फरवरीकोसमाप्तहोगी।उच्चन्यायालयबच्चोंकेमाता-पिताऔरदोस्कूलसमूहोंद्वारादायरयाचिकाओंपरसुनवाईकररहाहैजिसमेंदिल्लीसरकारकी19दिसंबर2016औरसातजनवरीकीअधिसूचनाओकोचुनौतीदीगईहै।इनअधिसूचनाओंमेंदिल्लीविकासप्राधिकरण:डीडीए:कीजमीनपरबनाएगए298निजीस्कूलोंमेंदाखिलेकेलिएसिर्फपड़ोसयादूरीमापदंडपरआधारितनर्सरीदाखिलाफॉर्मकोस्वीकारकरनेकोकहागयाहै।सुनवाईकेदौरानअदालतनेस्कूलनिकायोंमेंसेएककीतरफसेउपस्थितवकीलसेकहा,उनकी:सरकारकी:दलीलहैकिभूमिआवंटनपत्रकेसंबंधमेंचुनौतीपरविचारनहींकरें।क्याआपइसरूपमेंदोभागोंमेंबांटसकतेहैंकिअगरअदालतआवंटनपत्रकोचुनौतीपरविचारनहींकरतीहैतोक्याआपआवंटनसेस्वतंत्ररूपसेमापदंडकोचुनौतीदेसकतेहैं।