शारीरिक शिक्षा

इस्लामाबाद,24अक्टूबर(भाषा)पाकिस्तानकेविदेशमंत्रीशाहमहमूदकुरैशीनेबृहस्पतिवारकोअंतररराष्ट्रीयसमुदायसेऔरखासतौरपरसंयुक्तराष्ट्रसुरक्षापरिषद(यूएनएससी)सेकश्मीरमेंभारतसरकारद्वारालगाईगईपाबंदियोंकोखत्मकरानेकीदिशामेंकामकरनेकीअपीलकी।जम्मूकश्मीरकोविशेषदर्जादेनेवालेअनुच्छेद370केज्यादातरप्रावधानोंकोसमाप्तकरनेऔरराज्यकोदोकेंद्रशासितप्रदेशोंमेंविभाजितकरनेकेभारतसरकारकेपांचअगस्तकेफैसलेकेबादपाकिस्ताननयीदिल्लीकेखिलाफअंतरराष्ट्रीयसमर्थनजुटानेकीनाकामकोशिशकरताआरहाहै।कुरैशीने24अक्टूबरकोमनायेजानेवालेसंयुक्तराष्ट्रदिवसकेअवसरपरअपनेसंदेशमेंकहाकिवैश्विकसंस्थानेउपनिवेशवादकेखिलाफसंघर्षमेंऔरमौलिकअधिकारोंकोबढ़ावादेनेमेंसक्रियभूमिकानिभाईहै।उन्होंनेकहा,‘‘आत्मनिर्णयकालोगोंकाअधिकारइसकेकेंद्रमेंहै।फिरभीइसतरहकेएकसार्वभौममूल्यकोजम्मूकश्मीरमेंरौंदाजारहाहै।’’कुरैशीनेकहाकिपांचअगस्तकेबादक्षेत्रमेंभारतसरकारद्वारापाबंदियांलगानेकेबादसेस्थितिऔरबदतरहोगई।उन्होंनेकहा,‘‘जैसाकिहमसंयुक्तराष्ट्रदिवसमनारहेहैं,मैंअंतरराष्ट्रीयसमुदायसेऔरखासतौरपरसंयुक्तराष्ट्रसुरक्षापरिषदसेकश्मीरसंकटखत्मकरनेकीदिशामेंकामकरनेकीअपीलकरताहूं।’’गौरतलबहैकिभारतसरकारकेअनुच्छेद370परफैसलेकेबादराज्यमेंकईपाबंदियांलगादीगईथीजिसकेतहतमोबाइलफोनऔरइंटरनेटसेवाएंबंदकरदीगईथी।येपाबंदियांक्रमिकरूपसेहटाईजारहीहैं।इसबीच,बृहस्पतिवारकोजम्मूकश्मीरप्रशासननेउच्चतमन्यायालयकोबतायाकिकरीब99प्रतिशतइलाकोंमेंकिसीतरहकीपाबंदीनहींहैऔरहालातकीरोजानासमीक्षाकीजारहीहै।राज्यमेंलगाईगईपाबंदियोंकोचुनौतीदेनेवालीयाचिकाओंपरशीर्षन्यायालयसुनवाईकररहाहै।

By Curtis