शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,बक्सर:अनियमितवर्षापाततथाघटतेभूजलस्तरनेकिसानोंकेसाथ-साथसरकारकीभीचिताबढ़ादीहै।ऐसेमेंसरकारनेसिचाईकीनईतकनीकड्रिप(टपकविधिसिचाई)तथास्प्रिंकलर(फव्वाराविधिसेसिचाई)कोबढ़ावादेनेकाकार्यशुरूकियाहै।इसतकनीकसेएकतरफजहांसिचाईमेंभूजलकेइस्तेमालमेंकमीआएगी।वहीं,फसलोंकोभीउनकीजरूरतोंकेअनुसारजड़मेंपानीमिलेगा।इसविधिसेसिचाईकाआधारभूतढांचातैयारकरनेकेलिएसरकारकिसानोंको90फीसदतकअनुदानदेरहीहै।जिलाउद्यानपदाधिकारीदीपककुमारनेबतायाकिसरकारऐसेकिसानोंकोजिनकेपासआधाएकड़सेज्यादातथाअधिकतम5एकड़तककीजमीनहै।सरकारउन्हेंकृषिसिचाईयोजनाकेतहतड्रिपअथवाटपकसिचाईएवंस्प्रिंकलरअथवाफव्वारासिचाईकेलिएयंत्रमुहैयाकरारहीहै।इनयंत्रोंपरक्रमश:90तथा75फीसदअनुदानसरकारकेद्वारादियाजारहाहै।किसानोंकोकेवलशेषराशिएवंजीएसटीकाभुगतानकरनाहोताहै।क्याहैटपकऔरस्प्रिंकलविधिसेसिचाईसिचाईकीइसतकनीककेद्वाराकिसानोंकोउनकीफसलकेलिएजितनीजरूरतहोतीहैउतनीहीमात्रामेंपानीउपलब्धकरायाजाताहै।टपकविधिसेसब्जियोंतथाफूलोंकीखेतीमेंबेहतरपरिणाममिलतेहैं।वहीं,फव्वाराविधिसेपूरेखेतोंकीफसलकोएकसमानजलमिलताहै।इसमें,खेतमेंक्यारियोंकेकिनारेपाइपबिछादियाजाताहै।पाइपमेंजगह-जगहछेदहोतेहैं,जिनकेजरिएपाइपसेपानीनिकलकरपौधेकीजड़तकपहुंचतेहैं।इसमेंमोटरसेउतनाहीपानीछोड़ाजाताहै,जितनीजरूरतहो।जबकि,पारंपरिकतरीकेसेपटवनमेंकाफीपानीबर्बादहोताहै।ऑनलाइनकरेंआवेदन:कृषिसिचाईयोजनाकेतहतआवेदनकरनेकेलिएकिसानोंकोविभागकीवेबसाइटपरजाकरऑनलाइनआवेदनकरनाहोताहै।आवेदनोंकीजांचकेबादसरकारद्वाराचयनितकिसानोंकोयंत्रोंकीखरीदपर90फीसदतकअनुदानकीराशिप्रदानकीजातीहै।उन्होंनेबतायाकिइसयोजनाकालाभलेनेकेलिएकिसानोंकेपासजमीनकीएलपीसीरसीदहोनीचाहिए।आवेदनकरनेकेपश्चातसरकारद्वारायंत्रविक्रेताकेखातेमेंअनुदानकीराशिस्थानांतरितकरदीजातीहै।शेषराशिकिसानोंकोवहनकरनीहोतीहै।अबतकप्राप्तहुई155आवेदन,16कोमिलीस्वीकृति:जिलाउद्यानपदाधिकारीनेबतायाकिइसयोजनाकेतहतअबतक155ऑनलाइनआवेदनप्राप्तहुएहैं,जिनमें16किसानोंकेआवेदनोंकोहीस्वीकृतिमिलीहै।दरअसल,कईत्रुटिपूर्णआवेदनोंकोनिरस्तभीकियागयाहै।उन्होंनेबतायाकिकिसानअपनेआवेदनकीअद्यतनस्थितिविभागकीवेबसाइटपरचेककरसकतेहैं।उन्होंनेकहाकिसभीकिसानोंकोसरकारकीइसयोजनाकालाभउठातेहुएजलसंरक्षणमेंअपनायोगदानदेनाचाहिए।

By Dale