शारीरिक शिक्षा

अरविंदपांडेय,नईदिल्ली।देशकीनईपीढ़ीकोबेकारीसेबचानेकीसरकारकीपहलरंगलाईतोआनेवालेदिनोंमेंपढ़ाईपूरीकरनेकेबादकोईभीछात्रबेकारनहींबैठेगा।सभीकोकाममिलेगा।इसकेलिएशिक्षाकेपूरेढांचेकोएकनएस्वरूपमेंगढ़ाजारहाहै।इसमेंभावीउपयोगिताकेआधारपरहीप्रत्येककोर्सकोअबप्रोत्साहितकियाजाएगा।साथहीजरूरतकेहिसाबसेउतनीहीसंख्यामेंउनकोर्सोंमेंदाखिलादियाजाएगा।यानीशैक्षणिकसंस्थानोंसेअबकिसीकोर्सकेउतनेहीछात्रनिकलेंगेजितनेकीजरूरतहोगी।

सबसेपहलेइनक्षेत्रोंमेंआजमानेकीयोजना

इसपहलकोसबसेपहलेइंजीनियरिंगऔरटीचरएजुकेशनकेक्षेत्रमेंआजमानेकीयोजनाहैजहांमौजूदासमयमेंबगैरकिसीमैपिगकेहरसालबड़ीसंख्यामेंछात्रनिकलरहेहैं।हालांकिमांगइतनेलोगोंकीनहींहै।नतीजतनइनमेंसेबड़ीसंख्यामेंछात्रबीई,बीटेकएवंबीएडजैसीडिग्रीलेनेकेबादभीकामकीतलाशमेंभटकतेरहतेहैं।अबखाईकोपाटनेकोतैयारीहै।इसकेतहतघरेलूऔरवैश्विकजरूरतकोभीपरखाजारहाहै।इनमेंउद्योगोंकीभीमददलीजारहीहै।

छात्रोंकोस्‍क‍िलसेजोड़नेकीमुहिम

साथहीइसकेलिएअखिलभारतीयतकनीकीशिक्षापरिषषद(एआइसीटीई),राष्ट्रीयशैक्षिकअनुसंधानऔरप्रशिक्षणपरिषषद(एनसीईआरटी)एवंभोपालस्थितकेंद्रीयव्यावसायिकशिक्षासंस्थानआदिकीमददलीजारहीहै।शिक्षामंत्रालयकेमुताबिकनईराष्ट्रीयशिक्षानीतिआनेकेबादहीइसकामकोऔररफ्तारमिलीहै।अबस्कूलस्तरसेहीछात्रोंकोस्किलसेजोड़नेकीमुहिमशुरूकीगईहैजिसमेंसभीछात्रोंकोकमसेकमकिसीएकस्किलसेजुड़नाहोगा।

डिमांडआधारितहोगीशिक्षा

इसकीपढ़ाईछठीसेहीशुरूहोजाएगीऔर12वींतकचलेगी।इसकेबादवहउसीस्किलकेसाथउच्चशिक्षाकीपढ़ाईभीकरसकेगा।इसदौरानछात्रोंकोउसीस्किलकेक्षेत्रसेजोड़ाजाएगाजिसकीडिमांडहोगी।जैसेअभीस्कूलोंमेंकोडिगऔरडाटासाइंसकीपढ़ाईकोप्रमुखतादीजारहीहै।इसबीचसरकारकाफोकसटीचरएजुकेशनकोलेकरभीहै।इसकेतहतअबआनेवालेवर्षोंमेंशिक्षकोंकीजरूरतकोभीपरखाजाएगा।उसकेहिसाबसेआनेवालेवर्षोंमेंबीएडजैसेकोर्सोंमेंछात्रोंकोदाखिलादियाजाएगा।

50फीसदछात्रोंको व्यावसायिकशिक्षासेजोड़नेकालक्ष्य

संस्थानोंकोउतनीहीसीटोंकीमान्यतादीजाएगी।दूसरेकोर्सोंकोलेकरभीमैपिगकेऐसेहीफार्मूलेकोतैयारकरनेकीयोजनाहै।वैसेभीनईराष्ट्रीयशिक्षानीतिकेतहतवर्ष2025तकस्कूलऔरउच्चशिक्षणसेजुड़ेकमसेकम50फीसदछात्रोंकोव्यावसायिकशिक्षासेजोड़नेकालक्ष्यरखागयाहै।गौरतलबहैकिसरकारनेयहपहलतबकीगईहैजबदेशमेंबेरोजगारीएकबड़ासियासीमुद्दाबनगईहै।

By Cooper