शारीरिक शिक्षा

रेटिंगएजेंसी‘फिच’नेरूस-यूक्रेनयुद्धकेकारणऊर्जाकीमतोंमेंबढ़ोतरीकेबादअगलेवित्तवर्षकेलिएभारतकेविकासकेअनुमानको10.3प्रतिशतसेघटाकर8.5प्रतिशतकरदियाहै.एजेंसीनेकहाकिकोरोनावायरसके‘ओमीक्रोन’स्वरूपकेप्रकोपमेंकमीआनेकेबादसेप्रतिबंधोंमेंढीलदीगईहै.जिससेइससालजूनकीतिमाहीमेंसकलघरेलूउत्पाद(GDP)मेंवृद्धिमेंतेजीलानेकेलिएमंचतैयारहुआहै.

एजेंसीनेचालूवित्तवर्षकेलिएजीडीपीविकासकेअनुमानको0.6प्रतिशतबढ़ाकर8.7प्रतिशतकरदियाहै.‘फिच’नेकहाकिहालांकिहमनेभारतकेलिएवित्तवर्ष2022-2023मेंअपनेविकासपूर्वानुमानकोतेजीसेबढ़तीऊर्जाकीमतोंकेकारणघटाकर8.5प्रतिशत(-1.8फीसदीकीकमीकेसाथ)करदियाहै.’’

पहलेभीघटाचुकीहैरेटिंग

इससेपहलेभीफिचरेटिंगएजेंसी(FitchRatingAgency)ने31मार्च,2022कोसमाप्तहोनेवालेचालूवित्तवर्षकेलिएभारतकीआर्थिकवृद्धिदर(EconomicGrowth)केअनुमानकोघटादियाथा.इसकेपीछेभीउसनेकोरोनामहामारीकाकारणदियाथा.कोरोनामहामारीकीवजहसेदूसरीलहरकेबादपुनरुद्धारउम्मीदसेकमरहनेकीवजहसेऐसाकियागयाहै. हालांकिउसनेपिछलेवर्षभारतकीवृद्धीदरकाअनुमान10.3फीसदी करदियाथालेकिनउसनेफिरसेइसकोघटाकर8.5करदियाहै.

7.3फीसदीकासंकुचन

आपकोबतादेंकिपिछलेवर्षकोरोनावायरससंबंधितप्रतिबंधोंकेचलतेकारोबारीगतिविधियोंपरअसरपड़नेसेवित्तवर्ष2020-21मेंअर्थव्यवस्थामें7.3फीसदीकासंकुचनआयाथा.फिचनेअपनीवैश्विकआर्थिकपरिदृश्यरिपोर्टमेंकहाकिभारतकीअर्थव्यवस्थाने(कोरोनावायरसके)डेल्टास्वरूपकेचलतेआयेतेजसंकुचनसेवित्तवर्ष2020-21कीतीसरीतिमाही(जुलाई-सितंबर2021)मेंमजबूतवापसीकीहै.

MoneyLaunderingCase:नवाबमलिककेइस्तीफेकीमांगकोलेकरBJPविधायकोंनेकियाविधानसभाकेबाहरप्रदर्शन

NashikNews:राजस्थानकेCMअशोकगहलोतकेबेटेवैभवगहलोतपरमामलादर्ज,लगाहैयेबड़ाआरोप

By Cooper