शारीरिक शिक्षा

दिल्लीहाईकोर्टमेंसुनवाईकेदौरानदिल्लीसरकारनेबतायाहैकिप्रदेशमेंआठऑक्सीजनप्लांटलगानेकाकामशुरूहोनाथा.इनमेंसेचारप्लांटलगगएहैंऔरएकअगलेदोदिनमेंशुरूहोजाएगा.दिल्लीसरकारकाकहनाहैकियहप्लांटहमनेचंदालेकरशुरूकराएहैं.दिल्लीसरकारकेवकीलनेहाईकोर्टकोबतायाकिऑक्सीजनसिलेंडरपर्याप्तमात्रामेंउपलब्धहैंलेकिनलोगोंनेसिलेंडरकीहोल्डिंगकररखीहै.

दिल्लीहाईकोर्टनेपूछाकिसिलेंडरबैंककेबारेमेंक्याकियागयाहै.इसकेजवाबमेंदिल्लीसरकारकेवकीलनेकहाकिघरतकलोगोंकोऑक्सीजनपहुंचापानाएककठिनकामहै.सुनवाईकेदौरानएकवकीलनेहाईकोर्टमेंकहाकिसेनादिल्लीमेंभी900बेडकाअस्पतालतैयारकररहीहै.हाईकोर्टनेइसपरकहाकिसेनाबहुतमददकररहीहै.जितनाकररहेहैं,बहुतहै.आपनेकभीसोचाहैकियेवायरसअगरसेनामेंफैलजाएतोकितनीमुसीबतहोगी.उन्हेंजोकामकरनाचाहिए,वेकररहेहैं.उनपरज्यादादबावनडालाजाए.

दिल्लीहाईकोर्टनेदिल्लीसरकारसेकहाकिजबआपकोरोनामरीजकोउसकेघरऑक्सीमीटरभेजतेहैंतबआपदवाएंभीभेजें.आपकोयेभीध्यानदेनाहोगाकिजबआपऑक्सीमीटरऑर्डरकरतेहैंतोसभीऑक्सीमीटरसहीनहींहोते.कुछडिफेक्टिवभीनिकलतेहैंलिहाजा,कोरोनामरीजकोघरभेजनेसेपहलेउसेचेककरनेकीजरूरतहै.पीडीएसऔरबीपीएलश्रेणीकेलोगोंकोस्टीमरभीभेजसकतेहैं.यहीनहीं सीनियरसिटीजनजोघरपरअकेलेरहतेहैंऔरदिव्यांगोंकोभीभेजाजासकताहै.दिल्लीसरकारकेवकीलनेहाईकोर्टकोजानकारीदीकिकोरोनासंक्रमितोंकेलिएटेलीकंसल्टेशनशुरूहोगयाहै.

दिल्लीसरकारकेवकीलनेहाईकोर्टमेंबतायाकिफिलहालपूलमें44डॉक्टरहैं.औरभीडॉक्टरजोड़ेजाएंगे.इससेउनडॉक्टर्सकोभीजोड़नेकीयोजनाहैजोबगैरसिम्पटमकेहैंयाक्वारनटीनहैं.येउनलोगोंकेलिएहोगाजोआइसोलशनमेंहैं,जिनकोसिम्पटमनहींहैंयाहल्काबुखारहै.इसपरहाईकोर्टनेकहाकिआपपब्लिकडोमेनमेंअपीलक्योंनहींकरतेहैं.जोडॉक्टरघरपरहैं,जिनकेपासयोग्यताहैवोजुड़ेंगेइससे.सिर्फयेकहिएजोअपनीसेवादेताहैकेवलएकएसएमएसकरे.हमेंलगताहैकिऐसेअनेकडॉक्टरसामनेआएंगे.

हाईकोर्टनेपूछा-क्याकलऑक्सीजनकीकमीहुईथी?

दिल्लीहाईकोर्टनेदिल्लीसरकारसेपूछाकिक्याकलऑक्सीजनकीकमीहुईथी?इसपरदिल्लीसरकारकेवकीलनेकहाकिकमीनहींहुई.दिल्लीकेचीफसेक्रेटरीऔरसेक्रेटरीलगातारगृहमंत्रालयकेसंपर्कमेंहैं.अभीकेवलऑक्सीजनसप्लाईकाहीमुद्दाहै.इंदिरागांधीसुपरस्पेशियलिटीअस्पतालखोलनेसेसंबंधितयाचिकापरदिल्लीहाईकोर्टमेंसुनवाईहुई.दिल्लीसरकारकेवकीलनेकहाकिऑक्सीजनकीमात्राकोदेखतेहुए7मईकीशामतकअस्पतालखोलाजासकताहै.

सुनवाईकेदौरानएकवकीलनेकहाकिअस्पतालमेंवेटिंगलिस्टकोभीपोर्टलपरडालनाचाहिए.एम्बुलेंसलाइनसेखड़ीहैं.मरीजको10से15मिनटतकऑक्सीजनदीजातीहैऔरफिरउन्हेंघरभेजदियाजाताहै.केंद्रसरकारकीओरसेअसिस्टेंटसॉलिसीटरजनरलचेतनशर्मानेकोर्टकोबतायाकिसशस्त्रबलोंकीओरसेएकनोडलअधिकारीनियुक्तकियागयाहै.एएसजीनेकहाकिकोरोनामेंसहायताकेलिएदिल्लीसरकारकेसाथसमन्वयकेलिएनोडलअधिकारीनियुक्तकियागयाहैजोभंडारणऔरपरिवहनकेसाथ-साथक्रॉयोजेनिकटैंककीस्थापनापरकामकरेगा.कोर्टनेइसेएकअच्छाकदमबताया.