शारीरिक शिक्षा

नईदिल्ली:पश्चिमबंगालकेराज्यपालजगदीपधनखड़नेसीएमममताबनर्जीकोएकपत्रलिखाहै.इसपत्रमेंउन्होंनेपश्चिमबंगालकेकिसानोंकोन्यायदिलानेकेलिएकदमउठानेकाआग्रहकियाहै.

राज्यपालधनखड़नेलिखाहैकियहचिंताजनकहैकि70लाखकिसानोंकोपीएम-किसानसम्माननिधिकेलाभसेवंचितरखागयाहै.

धनखड़नेकहाहैकिदेशभरमेंसभीकिसानोंको12000रुपयेकीसहायताराशीमिलीहैलेकिनहमारेराज्यकेकिसानोंकोइससेराज्यसरकारकीवजहसेवंचितरखागया.राज्यसरकारकोबसकिसानोंकीपहचानकरनीथी.मुझेसमझनहींआरहाकि राज्यसरकारद्वारा ऐसाक्योंनहींकियागया.किसानोंकेमद्देनजरयहकाफीतकलीफदेहबातहै.

जगदीपधनखड़नेआगेखतमेंममताबनर्जीसेअपीलकीहैकिकिसानोंकेसाथहोरहेअन्यायकेखिलाफउचितकदमउठाएं.

बतादेंकिइससेपहलेपश्चिमबंगालकेराज्यपालजगदीपधनखड़नेराज्यकीशीर्षनौकरशाहीकेप्रतिनाराजगीव्यक्तकीथीऔरकहाथाकिअफसरशाहीलगातारआगसेखेलरहीहै.उन्होंनेरविवार(9अगस्त)कोट्वीटकिया,“शीर्षनौकरशाहीअनुच्छेद166(3)केतहत“व्यापारकेनियम”कीअवहेलनाकरतेहुएलगातारआगसेखेलरहीहै.”

अनुच्छेद166(3)केअनुसारराज्यपालकोकुछव्यापारकार्योंमेंलेनदेनकोसुविधाजनकबनानेकेलिएनियमबनानेकाअधिकारहैं.वर्तमानमेंपश्चिमबंगालकेराज्यपालकाविभिन्नमुद्दोंकोलेकरमुख्यमंत्रीममताबनर्जीकेनेतृत्ववालीसरकारकेसाथतकरारचलरहीहै.

By Cooper