शारीरिक शिक्षा

दरभंगा।लोकसभाचुनावमेंराष्ट्रवाद,विकासवसुदृढ़नेतृत्वकोदेशकीआमजनतानेअपनीस्वीकारोक्तिदीहै।संविधानकेजानकारोंकायहमाननाहै।लनामिविविकेराजनीतिशास्त्रकेवरीयशिक्षकवराजनीतिकसमीक्षकडॉ.जितेंद्रनारायणकहतेहैंकियहचुनावसामान्यनहीं,विशिष्टथा।देशकासबकुछदांवपरलगाथा।जनताइसचीजकोसमझरहीथी।प्राचीनकालसेअबतकराज्यकीसंस्थाओंपरकभीप्रश्नचिन्हखड़ानहींहुआ।एकता-अखंडताकेमुद्देपरजनताहमेशाएकरही।जिसतरहइनमुद्दोंपरविरोधीदलोंनेप्रश्नउठाए,सेनाध्यक्षकोगुंडाकहागया,एयरस्ट्राइकपरसवालउठाएगए,आस्पाकोहटानेकीबातहुई,जनताकीचिताबढ़ी।दूसरे,ग्लोबलाइजेशनकेदौरमेंआर्थिकविकासकेमुद्देपरकठोरकदममोदीसरकारनेउठाएजिसेअलोकप्रियकहागया,देशकीजनताकामोदीपरविश्वासबढ़तागयाऔरउसकाअसरचुनावमेंदिखा।देशकीविदेशोंमेंछविबदलीजिसकाअसरभीरहा।कुलमिलाकरराष्ट्रवादवविकासकेसाथमजबूतनेतृत्वकोदेशकीजनतानेजनादेशदिया।अधिवक्तासंतोषकुमारझाकहतेहैंकिविरोधियोंकेलिएमोदीसरकारपरकिएगएहमले,उनपरहीभारीपड़गए।देशसेलेकरविदेशोंतकसरकारकीउपलब्धियोंकोजिसतरहसेविरोधीदलोंनेसवालोंकेकटघरेमेंखड़ाकिया,वहमोदीसरकारकेपक्षमेंगया।लोकसभाचुनावकेपरिणामइसीतरफईशाराकररहेहैं।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप