शारीरिक शिक्षा

रायबरेली,जेएनएन।बुद्धपूर्णिमाकेअवसरपरलॉकडाउनकाउल्लंघनकरतेहुएबुधवारकोसैंकड़ोंकीसंख्यामेंदूर-दराजसेश्रद्धालुडलमऊगंगास्नानकोपहुंचगए।राजघाट,रानीशिवालाघाट,संकटमोचनघाट,पथवारीदेवीघाट,दीनशाहगौराघाट,महावीरनघाट,राजानेवाजसिंहघाट,बड़ामठआदिगंगाघाटोंपरहरहरगंगेकेगगनभेदीउद्घोषकेसाथपतितपावनीगंगामेंडुबकीलगाई।स्नानकेबादश्रद्धालुओंनेतटपरस्थितविभिन्नदेवी-देवताओंकेमंदिरोंमेंपूजनअर्चनकरतीर्थपुरोहितोंकोअन्नवद्रव्यदानकरकुटुंबकेकल्याणकीकामनाकी।इसदौरानपुलिसप्रशासनकीअनुपस्थितिसेघाटपरलोगोंकीकाफीभीड़रहीयहांतककिलोगोंनेकोविडप्रोटोकॉलऔरलॉकडाउनकेनियमोंकाभीपालननहींकिया।

वैश्विकमहामारीकोदेखतेहुएलाकडाउनलगायागयाहै,सभीसेघरमेंरहनेवमास्कलगानेकीअपीलकीजारहीहै,लेकिनयहसबमहजऔपचारिकताओंमेंपूराकरायाजारहाहै।इसीकेचलतेबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुस्नानकरनेपहुंचगएऔरस्थानीयप्रशासनकोभनकतकनहींलगी।हालांकितीर्थपुरोहितोंनेश्रद्धालुओंसेशारीरिकदूरीकापालनकराया।मास्कलगानेवगंगास्नानकेबजायगंगादर्शनकरनेकीअपीलकी

घाटोंपरनहींदिखीप्रशासनकीव्यवस्था: घाटोंपरपुलिसप्रशासनकीव्यवस्थानहींदिखी।स्नानकेदौरानतीर्थपुरोहितोंकेअपीलकेबावजूदलोगकोरोनागाइडलाइनकीधज्जियांउड़ातेरहे,लेकिनस्थानीयप्रशासनबेफिक्ररहा।

बैसाखपूर्णिमाकामहत्व: सनातनधर्मपीठबड़ामठकेमहामंडलेश्वरस्वामीदेवेंद्रानन्दगिरिनेबतायाकिइसपूर्णिमाकेदिनभगवानबुद्धकीजयंतीमनाईजातीहै।इसीदिनभगवानबुद्धकोज्ञानकीप्राप्तिहुईथी।बौद्धधर्मकोमाननेवालोंकेलिएयहबड़ापर्वमानाजाताहै।हिन्दूधर्मशास्त्रोंकेअनुसारबैसाखपूर्णिमाकोभगवानविष्णुनेभगवानबुद्धकेरूपमेंनौवांअवतारलियाथा।पौराणिकमान्यतााकेअनुसारइसदिनगंगास्नानकेबादगरीबोंकोअन्नदान,फलदानदेनेसेविशेषपुण्यकीप्राप्तिहोती है।

एसडीएमबोले: उपजिलाधिकारीडलमऊविजयकुमारनेकहाकिगंगास्नानकेदौरानघाटोंपरपुलिसप्रशासनकीगैरमौजूदगीकीजानकारीनहींहै।कोतवालसेवार्ताकरतत्कालघाटोंपरपुलिसकर्मियोंकीतैनातीकरलॉकडाउनकापालनकरानेकेनिर्देशदिएगएहैं।