शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,बांदा:कुपोषितबच्चोंकोसेहतमंदबनानेकेआंकड़ेहीजिम्मेदारोंपरसवालउठारहेहैं।32लाखरुपयेखर्चकर14,330कुपोषितबच्चोंकोपौष्टिकगरमागरमभोजनदियागया,लेकिनइनमें963बच्चेहीसेहतमंदहोपाए।अबसवालउठताहैकिजबसभीकोसमानरूपसेपौष्टिकभोजनउपलब्धकरायागयातोसभीकुपोषणमुक्तक्योंनहींहुए?इसकाजवाबदेनेमेंअधिकारीभीकतरारहेहैं।

जिलेमेंसुपोषणमिशनकार्यक्रमकीशुरुआत26जनवरीकोजिलाधिकारीहीरालालकेनिर्देशनमेंकीगई।मार्चऔरअप्रैलमेंकमजोरबच्चोंकोचिह्नितकरउन्हेंमांकीउपस्थितिमेंआंगनबाड़ीकेंद्रमेंपौष्टिकवगर्मभोजनदियाजानाथा।जिलेके1705आंगनबाड़ीकेंद्रोंपरपांचवर्षतकके1,69,199बच्चेपंजीकृतहैं।चारफरवरीकोअभियानचला76फीसदबच्चोंकावजनकियागया।इनमें14,330बच्चेकुपोषितमिले।इनबच्चोंमें90फीसदसेअधिकबालपोषणसत्रमेंशामिलहुए।इनमेंकरीबदोहजारबच्चेअतिकुपोषितनिकले।स्वास्थ्यवबालविकासविभागकादावाहैकिअभियानमें963बच्चेगंभीरकुपोषणकीस्थितिसेबाहरआगए।जिसमें266गंभीरतीव्रकुपोषित(सैम)बच्चेथे।साथही941कमवजनकेबच्चोंकीस्थितिमेंसुधारआयाहै।इसकार्यक्रमकेलिएखननविभागनेबालविकासएवंपुष्टाहारविभागको32लाखरुपयेदिएथे।

सुपोषणकार्यक्रमपरएकनजर

जनपदमेंआंगनबाड़ीकेंद्र:1705

पांचवर्षतककेबच्चे:169199

वजनकिएगएबच्चे:127903

कुपोषितमिलेबच्चे:14330

खर्चहुईधनराशि:32लाख

सेहतमंदहुएबच्चे:963

जिलास्तरपरचलेसुपोषणकार्यक्रममेंचिह्नितबच्चोंकोपौष्टिकभोजनकरायागयाहै।अतिगंभीरकुपोषितबच्चोंकीसेहतमेंतेजीसेसुधारहुआहै।कमवजनकेबच्चोंकास्वास्थ्यभीदुरुस्तहुआहै।

-डॉ.याकूबमुजफ्फर,मंडलीयसमन्वयक,सुपोषणकार्यक्रम

By Cook