शारीरिक शिक्षा

नईदिल्लीसबरीमालामंदिरमेंसभीआयुवर्गकीमहिलाओंकोप्रवेशदेनेकामामलालटकगयाहै।सुप्रीमकोर्टकी5जजोंकीबेंचनेअपनेफैसलेपरपुनर्विचारयाचिकाओंकोगुरुवारकोबड़ीबेंचकोभेजदिया।3जजोंनेबहुमतसेमामलेको7जजोंकीसंविधानपीठकोरेफरकियाहैजबकि2जजों-जस्टिसनरीमनऔरजस्टिसडीवाईचंद्रचूड़नेइसकेखिलाफअपनानिर्णयदिया।सुप्रीमकोर्टनेसबरीमालामंदिरहीनहीं,मस्जिदोंमेंमहिलाओंकेप्रवेशतथादाऊदीबोहरासमाजमेंस्त्रियोंकेखतनासहितविभिन्नधार्मिकमुद्देनएसिरेसेविचारकेलिएसातसदस्यीयसंविधानपीठकोसौंपाहै।CJIरंजनगोगोईनेकहाकिधार्मिकप्रथाओंकोसार्वजनिकआदेश,नैतिकताऔरभाग-3केअन्यप्रावधानोंकेखिलाफनहींहोनाचाहिए।महिलाओंकाप्रवेशमंदिरतकहीसीमितनहीं:SCचीफजस्टिसगोगोईनेकहाकियाचिकाकर्ताइसबहसकोपुनर्जीवितकरनाचाहताहैकिधर्मकाअभिन्नअंगक्याहै?सुप्रीमकोर्टनेकहाकिपूजास्थलोंमेंमहिलाओंकाप्रवेशसिर्फमंदिरतकसीमितनहींहै।मस्जिदोंमेंभीमहिलाओंकाप्रवेशशामिलहै।अब7जजोंकीसंविधानपीठमामलेकीसुनवाईकरेगी।सुप्रीमकोर्टनेयहभीसाफकियाहैकिमहिलाओंकेप्रवेशकापिछलाफैसलाफिलहालबरकराररहेगा।केरलसरकारकोकहागयाहैकिवहइसेलागूकरनेपरफैसलाले।पढ़ें:देवस्वोमबोर्डबोला,'कोर्टकेनिर्णयकोलागूकरानेकेलिएप्रतिबद्ध'आपकोबतादेंकिइसमामलेकोमहिलाओंकेअधिकारोंकीरक्षाकेतौरपरदेखाजारहाहै।पहलेभीSCनेफैसलादेतेहुए10से50वर्षकीमहिलाओंकेप्रवेशपरपाबंदीकोलिंगआधारितभेदभावमानाथा।केरलमेंपहलेसेहीहाईअलर्ट28सितंबर,2018कोSCकेफैसलेपरहिंसकविरोधकेबाद56पुनर्विचारयाचिकाओंसहितकुल65याचिकाओंपरचीफजस्टिसरंजनगोगोईकीअध्यक्षतावालीपांचसदस्यीयसंविधानपीठनेयहफैसलालियाहै।संविधानपीठनेइनयाचिकाओंपरइससाल6फरवरीकोसुनवाईपूरीकीथीऔरकहाथाकिइनपरफैसलाबादमेंसुनायाजाएगा।फैसलेसेपहलेहीकेरलमेंहाईअलर्टथा।केरलपुलिसनेसुरक्षाकेकड़ेप्रबंधकिएहैं।पूजाफेस्टिवलकेलिएसबरीमालाकेआसपास10हजारजवानोंकीतैनातीकीगईहै।307महिलापुलिसभीसुरक्षासंभालरहीहैं।पढ़ें:राफेलडीलकोSCसेक्लीनचिट,जांचनहींक्याथापहलेकाफैसलासबरीमालामंदिरमें10से50वर्षकीआयुकीमहिलाओंकाप्रवेशवर्जितहोनेसंबंधीव्यवस्थाकोअसंवैधानिकऔरलैंगिकतौरपरपक्षपातपूर्णकरारदेतेहुए28सितंबर,2018कोतत्कालीनचीफजस्टिसदीपकमिश्राकीअध्यक्षतावालीसंविधानपीठने4:1केबहुमतसेफैसलासुनायाथा।इसपीठकीएकमात्रमहिलासदस्यजस्टिसइन्दुमल्होत्रानेअल्पमतकाफैसलासुनायाथा।SCकेफैसलेपरकेरलमेंभारीविरोधकेरलमेंइसफैसलेकोलेकरबड़ेपैमानेपरहिंसकविरोधहुए।इसकोलेकरदायरयाचिकाओंपरसंविधानपीठनेखुलीअदालतमेंसुनवाईकी।याचिकादायरकरनेवालोंमेंनायरसर्विससोसायटी,मंदिरकेतंत्री,त्रावणकोरदेवस्वोमबोर्डऔरराज्यसरकारभीशामिलथी।सबरीमालामंदिरकीव्यवस्थादेखनेवालेत्रावणकोरदेवस्वोमबोर्डनेअपनेरुखसेपलटतेहुएमंदिरमेंसभीउम्रकीमहिलाओंकोप्रवेशकीअनुमतिदेनेकीकोर्टकीव्यवस्थाकासमर्थनकियाथा।बोर्डनेकेरलसरकारकेसाथमिलकरसंविधानपीठकेइसफैसलेपरपुनर्विचारकाविरोधकियाथा।पढ़ें:सबरीमालामंदिर,महिलाएं,कोर्टकाफैसला,क्याहैपूराविवादबोर्डनेबादमेंसफाईदीथीकिउसकेदृष्टिकोणमेंबदलावकिसीराजनीतिकदबावकीवजहसेनहींआयाहै।कुछदक्षिणपंथीकार्यकर्ताओंनेआरोपलगायाकिबोर्डनेकेरलमेंसत्तारूढ़वाममोर्चासरकारकेदबावमेंन्यायालयमेंअपनारुखबदलाहै।इसमसलेपरकेरलसरकारनेभीपुनर्विचारयाचिकाओंकोअस्वीकारकरनेकाअनुरोधकियाहै।केरलसरकारनेमहिलाओंकेप्रवेशकेमामलेमेंविरोधाभासीरुखअपनायाथा।सबरीमालामंदिरकेबारेमेंजानिएकेरलकेपठनामथिट्टाजिलेकीपहाड़ियोंकेबीचभगवानअयप्पाकामंदिरहै,जिसेसबरीमालामंदिरकेनामसेजानतेहैं।इसीजिलेमेंपेरियारटाइगररिजर्वभीहै,जिसकी56.40हेक्टेयरजमीनसबरीमालाकोमिलीहुईहै।इसमंदिरतकपहुंचनेकेलिए18पावनसीढ़ियोंकोपारकरनापड़ताहै,जिनकेअलग-अलगअर्थभीबताएगएहैं।इसमंदिरमेंहरसालनवंबरसेजनवरीतक,श्रद्धालुअयप्पाभगवानकेदर्शनकेलिएआतेहैंक्योंकिबाकीपूरेसालयहमंदिरआमभक्तोंकेलिएबंदरहताहै।मकरसंक्रांतिकेअलावायहां17नवंबरकोमंडलममकरविलक्कूउत्सवमनायाजाताहै।मलयालममहीनोंकेपहलेपांचदिनभीमंदिरकेकपाटखोलेजातेहैं।महिलाओंकोनजानेदेनेकेपीछेवजहसबरीमालामंदिरकरीब800सालसेअस्तित्वमेंहैऔरइसमेंमहिलाओंकेप्रवेशपरविवादभीदशकोंपुरानाहै।वजहयहहैकिभगवानअयप्पाब्रह्मचारीमानेजातेहैं,जिसकीवजहसेउनकेमंदिरमेंऐसीमहिलाओंकाआनामनाहै,जोमांबनसकतीहैं।ऐसीमहिलाओंकीउम्र10से50सालनिर्धारितकीहै।मानागयाकिइसउम्रकीमहिलाएंपीरियड्सहोनेकीवजहसेशुद्धनहींरहसकतींऔरभगवानकेपासबिनाशुद्धहुएनहींआयाजासकता।

By Connor