शारीरिक शिक्षा

जासं,रांची:गुरुद्वाराश्रीगुरुनानकसत्संगसभा,कृष्णानगरकॉलोनीमेंश्रीगुरुग्रंथसाहिबकेपहलेप्रकाशपर्वकेउपलक्ष्यमेंदीवानसजायागया।विशेषदीवानकीशुरुआतसुबहछहबजेआसादीवारकीर्तनसेहुई।तत्पश्चातहजूरीरागीजत्थाभाईमहिपालसिंहजीएवंसाथियोंने'रंगरतामेरासाहिबरबरहयाभरपूर..,''लखखुशियांपातशाहियांजेसतगुरनदरकरे..,''गरीबांअनाथांतेरामांड़ा..,डिठेसभेथावनहीतुधजेहिया..'आदिशबदगायनकरसंगतकोगुरुवाणीसेजोड़ा।गुरुद्वाराकेहेडग्रंथीज्ञानीजेवेंदरसिंहनेकथावाचनद्वाराश्रीगुरुग्रंथसाहिबजीकीमहिमाकावर्णनकरतेहुएकहाकिश्रीगुरुग्रंथसाहिबजीहमेशामानवताकामार्गदर्शनकरतेहैं।हमेंसेवा,करुणा,सौहार्दसिखातेहैं।अन्यायकेआगेकभीनहींझुकनेकीभीशिक्षादेतेहैं।प्रकाशपर्वकेउपलक्ष्यमेंसंगतद्वारासामूहिकरूपसेश्रीजपुजीसाहिबकापाठभीपढ़ागया।मौकेपरबरियातूस्थितगुरुनानकहोमकीपिछले52वर्षोंसेनिस्वार्थसेवाकररहेरांचीकेमेजरगुरदयालसिंहसलूजाकोसत्संगसभाकेअध्यक्षद्वारकादासमुंजालद्वारासरोपाभेंटकरसम्मानितकियागया।सभाकेउपाध्यक्षसुरेशमिढ़ानेउन्हेंस्मृतिचिन्हसौंपा।सभाकेसचिवअर्जुनदेवमिढ़ानेसाधसंगतकोप्रकाशपर्वकीबधाईदीएवंइसीतरहगुरुघरसेजुड़ेरहनेकाआह्वानकिया।

दीवानमेंहरविन्दरसिंहबेदी,अशोकगेरा,चरणजीतमुंजाल,सूंदरदासमिढ़ा,नरेशपपनेजा,बिनोदसुखीजा,मोहनकाठपाल,अमरजीतगिरधर,मोहनलालअरोड़ा,हरजीतबेदी,लक्ष्मणसरदाना,रमेशपपनेजा,इंदरमिढ़ाआदिशामिलथे।गुरुग्रंथसाहिबकेसंदेशसेसमाजकोप्रेरणालेनेकीजरूरत:सेठी

गुरद्वाराश्रीगुरुसिंहसभामेनरोडरांचीकीप्रबंधनकमेटीकीओरसेसमूहसंगतकेसहयोगसेजागतजोतसाहिबश्रीगुरुग्रंथसाहिबजीमहाराजजीकापावनपहलाप्रकाशपूर्वगुरुगोबिदसिंहपब्लिकस्कूलकमड़ेमेंश्रद्धाभावकेसाथमनायागया।हजूरीरागीजत्थाभाईसंदीपसिंहऔरहजूरीरागीभाईभरपूरसिंहनेगुरबाणीशबदगायनकिया।भारतसरकाररेलमंत्रालययात्रीसमितिकेसदस्यगुरविदरसिंहसेठीशामिलहुए।गुरुद्वारागुरुसिंहसभारांचीकीओरसेउन्हेंसम्मानितकियागया।मौकेपरउन्होंनेकहाकिश्रीगुरुग्रंथमहाराजभारतीयसमाजमेंएकताकाप्रतीकहै।श्रीगुरुग्रंथसाहिबमहाराजमेंसभीधर्मवर्गोंकेमहापुरुषोंसंतोंकीवाणीदर्जहै।आजहमसबकोगुरुग्रंथसाहिबमहाराजकीवाणीसेप्रेरणालेनीचाहिए।इसअवसरपरगुरुद्वारागुरुसिंहसभाकेप्रधानगुरमीतसिंह,जनरलसेक्रेटरीगगनदीपसिंहसेठी,उपाध्यक्षमहेंद्रसिंह,सेक्रेटरीहरजीतसिंह,कोषाध्यक्षतेजिदरसिंहआदिउपस्थितथे।

By Cooke