शारीरिक शिक्षा

मधुबनी,जेएनएन।रीजनलसेकेंड्रीस्कूलपरिसरमेंगांधीएवंलालबहादुरशास्त्रीकीजयंतीपरएकसमारोहकाआयोजनकियागया।अध्यक्षताकरतेहुएविद्यालयकेनिदेशकडॉ.आरएसपांडेयनेबापूएवंशास्त्रीजीकेदर्शनएवंव्यक्तित्वपरविस्तारसेचर्चाकी।कहा,गांधीजीकेसत्याग्रहशब्दकामतबलसिर्फसत्यकेलिएआग्रहकरनानहीं,बल्किशालीनतापूर्वकअपनीसकारात्मकबातोंकोदूसरेकेअन्त:करणमेंसमाहितकरानाहै।शास्त्रीजीकेव्यक्तित्वकीऊंचाइयोंपरभीप्रकाशडाला।प्राचार्यमनोजकुमारझानेकहाकिराष्ट्रपिताएवंलालबहादूरकेव्यक्तित्वसेप्रेरणालेकरउसेहमेंजीवनमेंउतारनेकीजरूरतहै।दोनोंमहापुरुषोंनेदेशकेलिएहीनहींबल्किविश्वमेंअमिटछापछोड़ी।इसकाअनुकरणकरछात्रनईऊंचाईप्राप्तकरसकतेहैं।कार्यक्रममेंविद्यालयकेशैक्षणिकनिदेशकप्रत्युषपरिमलएवंबालविज्ञानकांग्रेसकेजिलासमन्यवकसंतोषकुमारमिश्रचुन्नूकेअलावाविद्यालयकेतमामशिक्षकवशिक्षिकाओंकेसाथबच्चोंनेभागलिया।इसअवसरपरहनुमानझा,पवनतिवारी,आद्यानाथझा,संजयकुमारमिश्र,अमितशाही,पंकजकुमार,शैलेंद्रकुमार,राजाराम,पंकजआदिमौजूदथे।

By Dale