शारीरिक शिक्षा

बक्सर:नयाबाजारस्थितश्रीसीतारामविवाहमहोत्सवसमितिकेतत्वावधानमेंआयोजितसिय-पियमिलनमहोत्सवरविवारकोभीअपनेपूरेपरवानपरथा।प्रतिदिनकीतरहआजभीआयोजनस्थलपरविभिन्नआध्यात्मिककार्यक्रमोंकातांतालगारहा।इसदौरानआश्रमपरिसरस्थितश्रीराम-जानकीमंदिरमेंदेवी-देवताओंकीपूजा-अर्चनाकीगई।वहीं,श्रीरामचरितमानसकानवाह्नपरायणपाठलगातारजारीहै।सीतारामनामसंकीर्तनवसत्संगआदिकाकार्यक्रमभीसमयानुकूलहोरहाहै।परन्तु,श्रद्धालुओंकीसबसेअधिकभीड़वृंदावनकेस्वामीफतेहकृष्णशर्माकेनिर्देशनमेंराधाकृष्णसंस्थानद्वारामंचितश्रीकृष्णलीलाऔरदोपहरमेंआयोजितरामकथाकेदौरानहोरहीहै।

सोमवारकोमहर्षिखाकीबाबासरकारकासिय-पियमिलनतिथिकेउपलक्ष्यमेंगुरुदेवकेप्रतिश्रद्धाजंलिएवंसमष्टिभंडाराकेसाथहीप्रात:9बजेसेपुष्पवाटिकालीलाकामंचनहोगाऔररात्रिमेंधनुषयज्ञ।अगलेदिनश्रीरामबारातकीशोभायात्रानिकालीजाएगी।वहीं,08तारीखकोरामविवाहकार्यक्रमहै।इसकारणश्रीराम-जानकीविवाहकीतैयारियांभीजोर-शोरसेशुरूकरदीगईहै।इसकेलिएअलगसेएकभव्यमूविगस्टेजबनायागयाहै।जिससेकिश्रद्धालुपरिसरकेकिसीकोनेसेकार्यक्रमकोदेखसकें।आश्रमकेमहंतश्रीराजारामशरणमहाराजनेबतायाकिइसबारभीआश्रमकेस्वयंसेवकवृंदावनवालेकाकाजीकीदेखरेखमेंविवाहमंडपकोसजाने-संवारनेकाकामकियाजाएगा।

देशकेकोने-कोनेसेश्रद्धालुओंकेपहुंचनेकाक्रमजारी

महोत्सवकार्यक्रममेंदूसरेशहरवप्रान्तसेश्रद्धालुओंकेआनेकाक्रमप्रतिदिनजारीहै।जिसकाअंदाजापंडालमेंश्रद्धालुओंकीबढ़तीभीड़वमहाप्रसादग्रहणकिएजानेवालेश्रद्धालुओंसेहोरहीहै।जाहिरहैकिसाकेतवासीपूज्यसंतश्रीनारायणदासजीभक्तमालीउपाख्यनेहनिधिमामाजीद्वारास्थापितइसआयोजनकीसुगंधदेशकेकोने-कोनेतकफैलनेसेइसमहत्वपूर्णविवाहलीलामेंशामिलहोकरउसकासाक्षीबननेकेलिएहरकोईलालायितरहताहै।आश्रमकेमहंतश्रीराजारामशरणजीमहाराजनेबतायाकिबुधवारकीरातमेंश्रीराम-जानकीकाविवाहसंपन्नहोगा।जिसकेबादगुरुवारकीप्रात:9बजेश्रीरामकथाऔरसंध्याश्रीरामकलेवाकेसाथमहोत्सवकोविश्रामदेदियाजाएगा।

महोत्सवकासाक्षीबननेपहुंचेसंत

सिय-पियमिलनमहोत्सवमेंआयोजितश्रीराम-जानकीकेविवाहलीलाकासाक्षीबननेहेतुदेशकेकोने-कोनेसेआश्रमकेशिष्योंकेअलावाकईजगहोंकेसाधु-संतसमाजवभक्तोंकेआनेकाक्रमलगातारजारीहै।इसदौरानमलूकपीठाधीश्वरश्रीराजेंद्रदेवाचार्यजीमहाराजआजपधारचुकेहैं।जबकि,श्रीलक्ष्मणकिला,अयोध्याकेश्रीश्रीअनन्तश्रीसम्पन्नमैथलीरमणशरणमहाराजसोमवारकोपधाररहेहैं।इसकेअलावाकईसंत-विद्वतवसाधू-संतश्रीरामऔरसीताकीविवाहलीलामेंशिरकतकररहेहैं।

..गोलकुंडाकोनवाबन्योछावरविठ्ठलनाथपेभयो

प्रात:रविवारकोआयोजितश्रीकृष्णलीलाकेमंचनमेंदिखायागयाकीदामापंथनामकव्यक्तिजोविठ्ठलनाथभगवानकाभक्तहै।अपनीगरीबीकेकारणएकनवाबकेयहांनौकरीकरताहै।यहबातनवाबकेएकमुसलमानसंत्रीकोनहींपचतीहैऔरखजानेकीचोरीकिएजानेकीशिकायतवोनवाबसेकरताहै।इसपरउसेफांसीकीसजामुकर्ररकीजातीहै।इसक्रममेंआगेदिखायाजाताहैकिभगवानविठ्ठलनाथअपनेभक्तदामापंथकेनौकरबनकरनवाबकेपासजातेहैंऔरउसकेखजानेकीभरपाईकरदेतेहैं।इसदौरानव्यागद्दीसेनेहनिधिमामाजीकीरचितपंक्ति-वेदरसाहीगोलकुंडाकोनवाबन्योछावरविठ्ठलनाथपेभयो.केपदगायनपरश्रद्धालुझूमउठतेहैं।

दोनोंहैपुत्रअवधकेहैनामरामलक्ष्मण

लीलाजन्मएवंविश्वामित्रआगमनसेअहल्योद्धारतककीलीलामंचनकेबादरविवारकीरातरामलीलामंचनमेंप्रभुरामवलक्ष्मणकोलेकरविश्वामित्रजनकपुरपहुंचतेहैं।जहांविश्वामित्रकाभव्यस्वागतहोताहैऔरऋषिसहितरामवलक्ष्मणकोउचितस्थानपरबैठातेहैं।मंचनक्रममेंमहाराजाजनककाप्रवेशहोताहैऔरवेरामएवंलक्ष्मणकोदेखकरमोहितहोजातेहैं।इसदौरानदोनोंसुकुमारोंकापरिचयपूछतेहैं।विश्वामित्रदोनोंकापरिचयदेतेहुएकहतेहैंकि-दोनोंहैपुत्रअवधनृपकेहैनामरामलक्ष्मणइनका,यहबलीगुणीउत्साहीहैकिसविधिसेवर्णनहोइनका.।अगलेदृश्यमेंदोनोंभ्रातानगरभ्रमणकीइच्छासेनिकलतेहैं.।