शारीरिक शिक्षा

जम्मू:अखिलभारतीयकाव्यमंचमुंबईनेआनलाइनकाव्यसम्मेलनआयोजितकरवाया।इसमेंजम्मूकेबस्सीकलांबाड़ीब्राह्मणाकीकवयित्रीसोफियाजंगरालकीकविताओंकोहरकिसीनेपसंदकिया।करीबएकघंटेकेइसकविसम्मेलनमेंसोफियानेविभिन्नप्रकारकीकविताएंपढ़करदर्शकोंकोमंत्रमुग्धकरदिया।उनकीकविताओंकोबहुतपसंदकियागया।उनकीहरकवितापरजिसप्रकारसेदर्शकोंनेकमेटकिए,उससेसाफथाकिकिसप्रकारसेउन्होंनेअपनीकविताओंसेदर्शकोंकादिलजीतलिया।उन्होंनेअपनीकविताओंकेमाध्यमसेलोगोंकोजिदगीकामतलबसमझातेहुएकहाकिजिदगीमेंसुख-दुखआतेहैंपरहमेंउनकासामनाकरनाचाहिए।जिदगीबहुतखूबसूरतहैबसहमेंयहबातसमझनीहोगी।अपनीकविताओंमेंउन्होंनेजिदगी,कोरोना,मोहब्बत,राधाकृष्णकाप्रेमइत्यादिसेलोगोंकोसंदेशदिए।लोगोंनेउनकीहरकविताकोबहुतध्यानसेसुनाऔरउनकामनोबलबढ़ातेहुएशुभकामनाएंदी।इसमंचपरनसिर्फदेशके,बल्किविदेशसेभीलोगजुड़ेहुएथे।सोफियानेबतायाकिउन्होंनेअपनीकविताओंकेमाध्यमसेलोगोंतकएकअच्छासंदेशपहुंचानेमेंकामयाबीहासिलकी।उनकाकहनाहैकिवहइसीतरहखूबमेहनतकरेंगीऔरजम्मूकानामदूसरेदेशोंतकलेजाएंगी।जम्मूकीप्रतिभाकोनसिर्फभारत,बल्किविदेशोंतकभीपहुंचायाजासके।उन्होंनेकहाकिउन्हेंकईमंचोंसेकवितापाठकेलिएआमंत्रितकियाजारहाहै।मकसदएकहीहैजम्मूकानामरोशनहो।सोफियानेसिर्फएकसप्ताहमेंदोपुस्तकेंप्रकाशितकरवाईहैं।

By Curtis