शारीरिक शिक्षा

संवादसहयोगी,ममदोट(फिरोजपुर):आजकेसमयलड़कियांभीहरक्षेत्रमेंलड़कोंकेसाथकंधेसेकंधामिलाकरतोचलहीरहीहैं।ऐसाहीकुछकरदिखायाहैसरहदीजिलाफिरोजपुरकेकस्बाममदोटकीयोगिताशर्माने।योगिताशर्मानेएकसाधारणपरिवारमेंरहकरसरकारीस्कूलोंमेंविद्याहासिलकरनेकेउपरांतपीएचडीतककास्थानहासिलकरपूरेसरहदीजिलेकानामरोशनकियाहै।

डा.योगिताशर्मानेबतायाकिउन्होंनेदसवींकक्षाममदोटकेसरकारीग‌र्ल्सस्कूलसेअव्वलदर्जेमेंकेपासकी।इसकेबादशहीदआरकेवधवासरकारीसीनियरसेकेंडरीस्कूलममदोटसेप्लस12वीं(नानमेडिकल)कीपरीक्षाकेपासकीऔरफिरोजपुरकेशहीदभगतसिंहस्टेटटेक्निकलकैंपसकेमैकेनिकलविभागमेंबीटेककेलिएदाखिलालेलिया।उन्होंनेबतायाकिअक्सरयहसुनाथाकिमैकेनिकलइंजीनियरिगलड़कियोंकेलिएनहींबनी,परंतुइनशब्दोंनेमेरेरास्तेकारोड़ानबनकरबल्किमेरेरास्तेकोऔरमजबूतकियाऔरमैकेनिकलइंजीनियरिगकीपढ़ाईकरनेकेबारेसोचाऔरपूरीभीकी।इसकेबादभाईमहासिंहइंजीनियरिगकालेजश्रीमुक्तसरसाहिबसेएमटेकसेपासकी।योगितानेबतायाकिपरिवारकीतरफसेमिलेसहयोगकेकारणदिनों-दिनपढ़ाईमेंरुझानबढ़तागया,जिसकारणपीएचडीकरनेकामनबनालियाऔरपीएचडीगुरुकांशीयूनिवर्सिटीतलवंडीसाबोसेकी।इसदौरानडा.कंवलजीतसिंहबठिडाऔरडा.हितेशवासुदेवलवलीप्रोफेशनलयूनिवर्सिटीजालंधरनेबतौरगाइडउसेबढि़यासहयोगदिया।उसेटीचरडेपरलायंसक्लबफिरोजपुरऔररोटरीक्लबफिरोजपुरकीतरफसेसम्मानितभीकियागयाहै।पढ़ाईकेसाथ-साथउसनेबतौरलेक्चरारशहीदभगतसिंहस्टेटकैंपसमेंबच्चोंकोपढ़ाकरअपनीपढ़ाईकाखर्चानिकाला।जिलाफिरोजपुरमेंपीएचडीमैकेनिकलकरनेवालीपहलीलड़कीकामानयोगिताशर्माकोप्राप्तहुआहै।इससेपहलेकेवललड़कोंनेहीमैकेनिकलकीपढ़ाईकीहै।

By Daly