शारीरिक शिक्षा

प्रकाशवत्स,पूर्णिया।पूर्णियाशहरकेउत्थानसेलेकरअबतककेसफरकीसाक्षीसौराफिलहालबीमारहै।सौराइसशहरकीसुंदरताभीहैऔरइसक्षेत्रकीसंस्कृतिकीवाहकभी।ऐतिहासिकपूरणदेवीवसिटीकालीमंदिरकाइतिहासभीइसनदीकेहीइईगिर्दकेंद्रितहै।शहरकासबसेबड़ाश्मशानभीइसनदीकेतटपरहीहै।कभीइसकाभीलंबाचौड़ातटथा।बरसातमेंइसकीफुफकारसेशहरसर्दरहताथा।गर्मीमेंभीयहखूबमचलतीथी।अबइसकातटवर्षदरवर्षसिकुड़ताजारहाहै।बरसातमेंभीस्थितिकुछठीकरहतीहैलेकिनअप्रैलकेबादभीइसकीधारारेंगनेलगतीहै।फिलहालसरकारनेजिसतरहनदियोंकोजोड़नेकीयोजनाकीघोषणाकीहै,सौराजैसीकईछोटीनदियोंकोभीअपनीसुधिलिएजानेकीउम्मीदजगीहै।सौराजैसीनदियांअपनेहीसाथबहनेवालीकईछोटीनदियांहाहश्रदेखचुकी।कईछोटीनदियांअबयहांइतिहासबनचुकीहै।सौराजैसीनदियांभीउसीपथपरअग्रसरहै।

कोसी-सीमांचलमेंमिटचुकाहैदोदर्जनसेअधिकनदियोंकाअस्तित्व

कोसीवसीमांचलमेंदोदर्जनसेअधिकनदियोंकाअस्तित्वयहांमिटचुकाहै।गंजना,तिलावे,सुरसुर,कजराधार,शहरमेंकारीकोसीकीदोशाखा,मनुषमाराधारजैसीकईऐसीनदियांहैंजोअबइतिहासबनचुकीहै।शहरीकरणकेसाथअन्यप्रकारसेहुएअतिक्रमणकीभेंटचढ़गई।ऐसीनदियोंमेंगादभरजानेवफिरजलकुंभीकेछाजानेसेभीकाफीअहितहुआ।इननदियोंकीसुधिनहींलिएजानेसेनदीकास्त्रोततकसूखनेलगा।

बाढ़सेतबाहीकाहैअहमकारण

विशेषज्ञोंकीरायमेंकोसीवसीमांचलमेंबाढ़कीतबाहीकामूलकारणछोटीनदियोंकालगातारसूखनाहै।यहांकीहरबड़ीनदियाोंकाअलग-अलगस्वभावहै।पूर्वहीबड़ीनदियोंकीउपनदियांउसकेउग्रहोनेपरनियंत्रककाकार्यकरतीथी।ऐसीनदियोंकेसूखनेसेबड़ीनदियोंमेंउफानआनेसेजमकरतबाहीमचतीहै।

नदियोंकोजोड़नेकीयोजनाकीसफलतापूरीतरहउसकेस्वरुपपरनिर्भरकरेगा।केवलबड़ीनदियोंकोइसमेंशामिलकिएजानेसेइसकीसफलतासंदेहकेदायरेमेंरहेगी।बेहतरयहहोगाकिइसबहानेमृतशैयापरपड़ीछोटीनदियोंकाअस्तित्वभीबचायाजाए।मृतहोतीइननदियोंकोयोजनामेंशामिलकरलिएजानेसेस्थितिऔरबेहतरहोगीऔरबहुतहदतकपर्यावरणसंरक्षणकेलिहाजसेभीयहकारगरकदमसाबितहोगा।

भगवानपाठक,शोधकर्ता,कोसीकीनदियां।