शारीरिक शिक्षा

रांची,जासं।कमर्शियलमाइनिंगऔरसीएमपीडीआइकोकोलइंडियासेअलगकरनेकेखिलाफआजसेकेंद्रीयकोयलयूनियनोंकीतीनदिवसीयहड़तालआजसेशुरूहोगयीहै।इसदेशव्यापीहड़तालसेझारखंडकेसभीकोलमाइंसमेंखननप्रभावितहोगा।हड़तालकोसीटू,एआइसीटीयू,कोयलामजदूरसंघ,राष्ट्रीयकोलयूनियन,सहितसभीकोलयूनियनकासमर्थनप्राप्तहै।

यूनियनोंकेद्वाराशारीरिकदूरीबनातेहुएसीसीएलमुख्यालय,दरभंगाहाउसऔरसीएमपीडीआइकांकेमेंसुबह10बजेसेविरोधप्रदर्शनशुरूकियागया।यूनियनकाकहनाहैकिसरकारभारतकोआत्मनिर्भरबनानेकेचक्करमेंकोयलाइंडियाकोकमजोरकररहीहै।कमर्शियलमाइनिंगसेपूंजीवादकोबढ़ानामजदूरविरोधीहै।गौरतलबहैकिपिछलेमहीनेसरकारनेकोयलासेक्टरकोकमर्शियलमाइनिंगकेलिएखोलदिया।

इसफैसलेकेसाथकोयलासेक्टरमेंसरकारकीमोनोपॉलीखत्महोगई।अबकोयलेकाउपयोगसिर्फसरकारहीतयनहींकरेगी,बल्किकोयलाउत्पादनकरनेवालीकंपनियांअबअपनेलाभकेलिएभीकोयलेकाउत्पादनकरसकेंगी।यूनियनकेद्व्रारायेविरोधप्रदर्शनफुटबॉलग्राउंडमेंकियाजाएगा।इसकेसाथहीसीएमपीडीआइकोभीकोलइंडियासेअलगकरनेकेलिएकमिटीकाभीगठनकियागयाहै।

कोयलामजदूरयूनियनकेअध्यक्षकेबीशिरोमणिनेबतायाकिसरकारकेद्वाराऐलानकिएगएपैकेजसेमजदूरऔरगरीबोंकाकिसीभीहालमेंभलाहोनेवालानहींहै।सरकारकेद्वारा2016में81कोलब्लॉककीनीलामीशुरूकीगयीथी।मगरइसमेंकोईखरीदारनहींआया।अब50नयेकोलब्लॉकजोखोलनेकीबातहोरहीहै,उसी81मेंसेहैं।साल2000मेंजिसइंफ्रास्ट्रक्चरकोबनानेकीबातशुरूहुईथी,वह20सालबादअभीतकनहींबना।फिर50हजारकरोड़कबतकजमीनपरउतरेगा,येदेखनेवालीबातहोगी।

कोयलाउद्योगमेंप्राइवेटाइजेशनसेमजदूरोंकाफिरवैसाशोषणहोगा,जैसावेजबोर्डकीबैठकसेपहलेथा।मजदूरोंऔरकामगारोंकोसरकारजैसीसहूलियतप्राइवेटकंपनीसेअपेक्षितनहींहै।इसकेसाथहीइससेपहलेभीवर्ष2014मेंसरकारकेद्वाराकोलब्लॉककोगैरसरकारीयाअर्धसरकारीकंपनियोंकोचलानेकेलिएदियागया।उसमेंसेकुछकोछोड़करसभीघाटेमेंहैं।ऐसेमेंसरकारकाउल्टानुकसानहोरहाहै।ऊपरसेकंपनियांश्रमकानूनमेंसंशोधनकेबादमजदूरोंकाशोषणकरनेकेलिएस्वतंत्रहोजाएंगी।

By Craig