शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,रुड़की:केंद्रीयजलशक्तिमंत्रीगजेंद्रसिंहशेखावतनेकहाकिभारतकेजलशक्तिमंत्रालयनेजलप्रबंधनकेलिएकईकार्यक्रमशुरूकिएहैं।इनमेंजलशक्तिअभियान,जलजीवनमिशन,नमामिगंगेकार्यक्रमऔरप्रधानमंत्रीकृषिसिचाईयोजनाशामिलहैं।योजनाओंकाउद्देश्यसबकोसुरक्षितपेयजलउपलब्धकराना,जलप्रदूषणकोदूरकरना,पेयजलस्रोतोंकासंरक्षणएवंसुधारऔरपानीकीउपयोगिताकोबेहतरबनानाहै।यहबातेंउन्होंनेभारतीयप्रौद्योगिकीसंस्थान(आइआइटी)रुड़कीऔरराष्ट्रीयजलविज्ञानसंस्थान(एनआइएच)रुड़कीकीओरसेसंयुक्तरूपसेआयोजितरुड़कीवाटरकान्क्लेवमेंबतौरमुख्यअतिथिकही।रुड़कीवाटरकान्क्लेवमेंदेश-विदेशसेलगभग200प्रतिभागीहिस्सालेरहेहैं।

आइआइटीरुड़कीऔरएनआइएचरुड़कीकीओरसेसंयुक्तरूपसेआयोजिततीनदिवसीयरुड़कीवाटरकान्क्लेव-2022केदूसरेसंस्करणकीबुधवारकोआइआइटीरुड़कीकेएलएचसीआडिटोरियममेंशुरुआतहुई।इससालकेरुड़कीवाटरकान्क्लेवकीथीमसततविकासकेलिएजलसुरक्षाहै।बुधवारकोआइआइटीरुड़कीपरिसरमेंआयोजितउद्घाटनसमारोहमेंमुख्यअतिथिकेरूपमेंकेंद्रीयजलशक्तिमंत्रीगजेंद्रसिंहशेखावतआनलाइनशामिलहुए।इसदौरानउन्होंनेकहाकिसम्मेलनमेंजलसेजुड़ेसभीविषयोंपरचर्चाकीजाएगी।साथहीसंयुक्तराष्ट्रकेसततविकासलक्ष्योंकोहासिलकरनेकेलिएजरूरीप्रयासोंपरभीविमर्शकियाजाएगा।राष्ट्रीयस्वच्छगंगामिशन,जलशक्तिमंत्रालयकेमहानिदेशकजी.अशोककुमारनेकहाकिदुनियाभरमेंस्थायित्वकेलिएजलसुरक्षाचर्चाकाविषयबनचुकाहै।इसेध्यानमेंरखतेहुएरुड़कीवाटरकान्क्लेव-2022पानीकीकमी,स्वच्छताऔरपानीकेस्थायीउपयोगसंबंधीसमस्याओंकोहलकरनेकेलिएतत्परहै।एकीकृतगंगासंरक्षणमिशनकेसाथयहसम्मेलनगंगानदीकेपारिस्थितिकप्रभावकोबनाएरखनेमेंकारगरसाबितहोगा।साथहीयहसुनिश्चितकरेगाकिपानीकीगुणवत्तामेंसुधारलाकरपर्यावरणकेसततविकासकोबढ़ायाजासके।एनआइएचरुड़कीकेकार्यवाहकनिदेशकडा.सुधीरकुमारनेकहाकियहसम्मेलनजलस्त्रोतोंकेसततप्रबंधनकेमहत्वपरप्रकाशडालेगा।सम्मेलनजलसंरक्षणसेजुड़ीविभिन्नसमस्याओं,इनकेसमाधानों,इनकेकारणोंपरसहीएवंविस्तृतजानकारीदेगा।साथहीपर्यावरण,प्राकृतिकपर्यावरण,ऊर्जा,अर्थव्यवस्थाएवंसार्वजनिकस्वास्थ्यमेंजलसुरक्षाकीभूमिकापरभीरोशनीडालेगा।आइआइटीरुड़कीकेनिदेशकप्रोफेसरअजितके.चतुर्वेदीनेकहाकिजलसुरक्षासततविकासकाआधारहै।जलसुरक्षासुनिश्चितकरनेकेलिएवैज्ञानिकअनुसंधानएवंनीतिगतहस्तक्षेपकीआवश्यकताहै।रुड़कीवाटरकान्क्लेवकादूसरासंस्करणएकऐसामंचहै,जोराज्यएवंराष्ट्रीयस्तरपरसरकारीनीतियोंमेंविज्ञानकेउपयोगकोप्रोत्साहितकरताहै।केंद्रीयजलमिशनकेचेयरमैनडा.आरकेगुप्तानेभीआनलाइनकार्यक्रममेंविचाररखे।उद्घाटनसमारोहमेंवीरामास्वामी,डा.आशीषपांडे,डा.अर्चनासरकार,डा.मनोरंजनपरिदा,डा.अरुणकुमार,प्रोफेसरअपूर्वाकुमारशर्मा,विज्ञानी,इंजीनियर,छात्रऔरविभिन्नसंस्थाओंसेआएप्रतिभागीउपस्थितरहे।

अंतरराष्ट्रीयविशेषज्ञ,आइआइटीऔरमंत्रालयोंकेप्रतिनिधिप्रस्तुतकरेंगेशोधपत्र

तीनदिवसीयवाटरकान्क्लेवमेंअमेरिका,कनाडा,स्पेन,स्वीडन,बेल्जियम,जर्मनी,स्विट्जरलैंड,नीदरलैंड,यूके,आस्ट्रेलिया,आस्ट्रिया,जापानऔरइटलीसेलगभग33अंतरराष्ट्रीयविशेषज्ञोंकेसाथआइआइटीऔरसंबंधितमंत्रालयोंकेप्रतिनिधिअपनेशोधपत्रविविधविषयोंपरप्रस्तुतकरेंगे।इसकेअतिरिक्तलगभग129सारपत्रविभिन्नअंतरराष्ट्रीयऔरराष्ट्रीयलेखकोंकीओरसेप्रस्तुतकिएजाएंगे।वहींव्यक्तिगतऔरआनलाइनकरीब200प्रतिभागीभीकान्क्लेवमेंहिस्सालेरहेहैं।

स्कूल-कालेजकेविद्यार्थियोंकोकियाआमंत्रित

रुड़कीवाटरकान्क्लेव-2022मेंराष्ट्रीयस्वच्छगंगामिशनकीओरसेआइआइटीकेएलएचसीआडिटोरियमकेसमीपएकप्रदर्शनीकाआयोजनभीकियागया।इसमेंगंगानदीसेजुड़ेविभिन्नपहलुओं,इसकेसंरक्षणऔरकायाकल्पकेप्रयासोंपरप्रकाशडालागयाहै।रुड़कीवाटरकान्क्लेवकेबादप्रदर्शनीकाउद्घाटनराष्ट्रीयस्वच्छगंगामिशन,जलशक्तिमंत्रालयकेमहानिदेशकजी.अशोककुमारनेकिया।यहप्रदर्शनीसातमार्चतकजारीरहेगी।शहरकेआसपासकेस्कूलोंएवंकालेजोंकेविद्यार्थियोंकोइसप्रदर्शनीकोदेखनेकेलिएआमंत्रितकियागयाहै।

By Daly