शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:दिनपरदिनबच्चेवयुवामोबाइलकीलतमेंसमयबर्बादकररहेहैं।ऑनलाइनगेमखेलकरकुछलोगअपनीजानभीगवांरहेहैं।इससबकोरोकनेकेलिएशासनकेआदेशपरलोहियाअस्पतालमें'मनकक्ष'बनवाएगएथे,लेकिनस्टाफनमिलनेसेमनकक्षअभीशुरूनहींहोसकेहैं।स्थितियहहैकि'मनकक्ष'तालेमेंकैदहोकररहगएहैं।

दोसालपहलेलोहियाअस्पतालमेंदंतरोगविशेषज्ञकेसामनेतीनमनकक्षलाखोंरुपयेकीलागतसेबनवाएगएथे।यहांपरमनोचिकित्सकऔरकाउंसलरकीतैनातीहोनेकोहै,लेकिनअभीतकस्टाफकीतैनातीनहोनेकेचलतेमनकक्षोंमेंतालेलटकरहेहैं।सरकारकाउद्देश्यथाकिजोबच्चेऔरयुवामोबाइलकीलतमेंघिरगएहैं।उन्हेंकाउंसिलिगकेमाध्यमसेइसकीलतसेनिजातदिलवाईजाएगी,लेकिनसरकारकेइसउद्देश्यपरविभागीयअफसरोंकीलापरवाहीकेचलतेपानीफिरतानजरआरहाहै।शहरकोतवालीक्षेत्रकेहोलीमैदानखतरानानिवासीहाईस्कूलकेछात्रसजलकपूरकीमौतपबजीगेमकेचक्करमेंहीछतसेगिरकरहोगईथी।अभीभीकाफीबच्चेऔरयुवामोबाइलपरपबजीसमेतअन्यगेमोंकोखेलनेमेंव्यस्तरहतेहैं।परिजनोंकेकाफीरोकनेकेबावजूदबच्चोंपरकोईअसरनहींपड़रहाहै।मनकक्षबनाएजानेकेबादशासनकोमनोचिकित्सकऔरकाउंसलरकीतैनातीकेलिएकहाजाचुकाहै,लेकिनचिकित्सकनहोनेकेकारणअस्पतालकोस्टाफनहींमिलसका।इसकेचलतेमनकक्षनहींचलपारहेहैं।

-डॉ.अशोककुमार,मुख्यचिकित्साधीक्षकलोहियाअस्पताल(पुरुष)छात्रकाहुआअंतिमसंस्कार

खतरानामोहल्लाकेव्यापारीसुफलकपूरके15वर्षीयपुत्रसजलकपूरकाअंतिमसंस्कारशुक्रवारसुबहपांचालघाटपरकरायागया।छात्रकीमौतसेमोहल्लेमेंभीसन्नाटापसराहै।घरवालोंकाअभीभीरो-रोकरबुराहालहै।इकलौतेपुत्रकीमृत्युनेपरिजनोंकोझकझोरकररखदिया।मृतककेपरिजनोंकोढांढ़सबंधानेकेलिएलोगउनकेघरपहुंचरहेहैं।

By Cooper