शारीरिक शिक्षा

दरभंगा।अल्लाहनेआपकोअगरधनदौलतसेनवाजाहै,तोयहमतसमझनाकियहपूराकापूराआपकाहीहै।इसपरगरीबोंकाभीहकहै।आपकेइसमालमेंसेगरीबोंकोभीहिस्सामिलनाचाहिए।इस्लाममेंअपनेमालकोगरीबोंकोबांटनेकेलिएढाईप्रतिशतधननिकालनेकाहुक्मदियाहै।इसेजकातकहाजाताहै।सालमेंएकबारआपअपनेपूरेधनकाआकलनकीजिएऔरउसकाढाईप्रतिशतगरीबोंकोदेदीजिए।इससेआपकेधनमेंबरकतहोगी।आपकायहसोचनागलतहैकिढाईप्रतिशतधननिकालनेसेआपकामालघटजाएगा।रमजानकेतीसरेजुमेपरविभिन्नमस्जिदोंमेंउमड़ीनमाजियोंकीभीड़कोसंबोधितकरतेहुएजुमेकेखुतबेइमामोंनेकहाकिअगरआपनेजकातनहींनिकाला,तोयहीधनकयामतकेरोजआपकेगलेमेंसांपबनकरलटकजाएगा।उन्होंनेकहाकिरोजेकीकबूलियतकेलिएभीइसकासदकानिकालनाजरूरीहै।रहमखांमोहल्लेकीमस्जिदकेइमाममौलानाआफाकअहमदनेकहाकिरोजेकीकबूलियततबतकनहींहोगी,जबतककिआपइसकासदकानहींनिकालदेतेहैं।रोजेकेइसीसदकेसेगरीबईदकेदिनखुशियांमनाएंगे,नएकपड़ेपहनकेखुशबूलगाएंगेऔरबेहतरखानेउनकोनसीबहोसकेंगे।इसलिएजरूरीहैकिईदकेनमाजसेपहलेहरहालमेंरोजेकासदकापौने3किलोगेहूंयाइसकेबराबरकामूल्यगरीबोंकेबीचवितरितकरदियाजाए।ध्यानरहेकिआपकेपरिवारमेंयदिकोईबच्चाभीआजपैदाहुआहैतोउसकाभीसदकानिकालनाहै।कहाकिइस्लाममेंसमानताकेसबककोसख्तीसेपढ़ायागयाहै।इसलिए,अगरकोईआदमीकिसीकारणवशगरीबरहगयाऔररमजानमेंयाईदमेंउसकेलिएबेहतरव्यवस्थानहींहोपाईतोआपकेफितरेकीरकमसेवहअपनेलिएबेहतरव्यवस्थाकरसकेगा।इससेपूर्वजुमेकीनमाजपढ़नेकेलिएकिलाघाटशाहीमस्जिद,दरभंगाटावरमस्जिद,कटहलबाड़ीमस्जिद,मुगलपुराकीमस्जिदमेंबड़ीसंख्यामेंनमाजियोंकीभीड़उमड़पड़ीथी।