मनोरंजन

जागरणसंवाददाता,ओबरा:सोनभद्र:बीपीएससीमेंदोबारलिखितपरीक्षादेनेकेबादभीसफलतानमिलनेपरतीसरीबारबिहारकेलखीसरायपरीक्षादेनेगयाबनारसीपरीक्षासेपूर्वहीजिदगीसेहारगया।बनारसीचारभाइयोंमेंसबसेछोटाथाऔरपढ़नेलिखनेमेंकाफीहोनहारथा।

ओबरानगरकेसेक्टरआठनिवासीबनारसीपुत्रकुशेश्वरसिंहमूलरूपसेग्रामजंदाहाथानाशेरपुरजिलावैशालीबिहारकारहनेवालाथा।वहअपनेचारभाइयोंमेंसबसेछोटाथा।उसकेपिताकुशेश्वरसिंहकीमृत्यु30वर्षपूर्वहीहोचुकीथी।उनकीमाताशकुंतलादेवीपरियोजनामेंचतुर्थश्रेणीकर्मचारीकेपदसेसेवानिवृत्तहोचुकीहैं।बनारसीअपनीप्रारंभिकशिक्षाओबराइंटरकॉलेजएवंबीकामराजकीयस्नातकोत्तरमहाविद्यालयओबरासेकियाथा।स्वजननेबतायाकिबनारसीअपनेबडे़भाईकृष्णकांतसिंहकेसाथसातमईकोबिहारमेंआयोजितबीपीएससीकीपरीक्षामेंशामिलहोनेकेलिएलखीसरायगयाथा।बनारसीइसकेपूर्वभीबीपीएससीकीदोबारलिखितपरीक्षापासकरचुकाथा।इसकेबादभीउसेसफलतानहींमिलसकीथी।वहलखीसरायकेआरलालकालेजपरीक्षाकेंद्रपरबीपीएससीकापरीक्षादेरहाथा,इसीदौरानबेहोशहोगया।विद्यालयकेलोगोंद्वाराउसेस्थानीयअस्पताललेजायागया,जहांडॉक्टरोंनेउसेमृतघोषितकरदियागया।वहींबाहरउसकेभाईकृष्णकांतकोइसकीजानकारीउसकीमौतकेलगभगडेढ़घंटेबादहुईतोवहभागकरविद्यालयमेंपहुंचे।ओबरापुलिसनेलगभगढाईबजेइसकीजानकारीउसकेस्वजनकोदीतोपरिवारमेंकोहराममचगया।

By Curtis