शारीरिक शिक्षा

नयीदिल्ली,चारफरवरी(भाषा)दिल्लीउच्चन्यायालयनेबृहस्पतिवारकोकेंद्रसरकारसेन्यायाधीशों,अधिवक्ताओंएवंअन्यन्यायिककर्मचारियोंकोकोविड-19टीकाकरणकेपहलेचरणमेंशामिलकरनेवालीजनहितयाचिकाकोप्रतिवेदनकेरूपमेंव्यवहारकरनेकेलियेकहाहै।दिल्लीउच्चन्यायालयकेन्यायाधीशन्यायमूर्तिडीएनपटेलएवंन्यायमूर्तिज्योतिसिंहकीपीठनेकहाकिटीकाकरणकेलियेप्राथमिकतानिर्धारितकरनानीतिगतनिर्णयहैऔरअदालतइसमेंकोईबदलावनहींकरेगी।पीठनेकहा,‘‘कोविड-19टीकाकरणकेलियेसरकारकीप्राथमिकताकोबदलनेकाहमेंकोईकारणनहींदिखताहैक्योंकिविभिन्नकारकोंकेआधारपरलियागयायहनीतिगतनिर्णयहै।’’अदालतनेकहा,"मामलेकेतथ्योंऔरपरिस्थितियोंकोदेखतेहुए,इसयाचिकाकोएकप्रतिवेदनकेरूपमेंव्यवहारकियाजानाचाहियेऔरइसमेंदीगयीशिकायतोंकोकानून,नियमों,विनियमोंऔरसरकारकीनीतिकेअनुसारलागूकियाजानाचाहिये।’’पीठनेआगेकहाकिजितनाजल्दीसंभवहोसकेइसबारेमेंनिर्णयकियाजानाचाहिये।केंद्रसरकारनेकोविड-19टीकाकरणकेपहलेचरणमेंडॉक्टरों,स्वास्थ्यकर्मियों,पुलिस,सुरक्षाबलोंएवंसफाईकर्मियोंकोटीकालगानेकानिर्णयकियाहै।

By Cook