शारीरिक शिक्षा

जागरणसंवाददाता,वाराणसी। मेडिकलकेछात्रोंकेहाथोंमेंजांचरिपोर्टवगलेमेंजहांस्टेथसकोप(आला)होनाचाहिए।वहींकानूनी-दांवपेचमेंफंसेमेडिकलकेछात्रकोर्टकचहरीकाचक्करलगारहेहैं।मान्यताकेफेरमेंमहात्मागांधीकाशीविद्यापीठसेसंबद्धतीनमेडिकलकालेजोंकेबीएएमएस(सत्र-2018-19)बैचछात्रोंकाभविष्यअधरमेंलटकाहुआहै।

मान्यताकेअभावमेंविद्यापीठप्रशासनइनकालेजोंकेछात्रोंकीपरीक्षाअबतकनहींकराईहै।वहींविश्वविद्यालयप्रशासनअन्यकालेजोंकेछात्रोंकीपरीक्षाएंकरानेकीतैयारीमेंजुटाहुआहै।इसेलेकरतीनों मेडिकलकालेजोंकेछात्रोंमेंरोषहै।छात्रोंनेएकबारफिरआंदोलनकरनेकीचेतावनीदीहै।

डा.विजयआयुर्वेदिकमेडिकलकालेज(कैथी),संतुष्टिआयुर्वेदिकमेडिकलकालेज(चुनार)वअपेक्सआयुर्वेदिकमेडिकलकालेज(चुनार)केछात्रोंकाकहनाहैकिसत्र-2018-19मेंहमलोगोंकाबीएएमएसकोर्समेंनीटकेमाध्यमसेदाखिलाहुआथा।काउंसिलिंगकरानेकेलिएउप्रआयुषकाएलाटमेंटलेटरभीहमारेपासमौजूदहैं।यदिमान्यतानहींथीतोउप्रआयुषनेदाखिलेकीअनुमतिक्याेंदीगई।कहाकिदेशकेअन्यमेडिकलकालेजोंमेंहमारेबैचकेदूसरेव्यवसायिककीभीपरीक्षाहोगईहै।वहींतीनसालमेंहमलोगजहांसेचलेथे।वहींआजभीखड़ेहैं।

विद्यापीठतीनमेडिकलकालेजोंकोछोड़करअन्यमेडिकिलकालेजोंकेपरीक्षाएंकरारहीहै।विद्यार्थियोंकाकहनाहैकिपरीक्षाकरानेकीमांगकोलेकरहमलोगकालेजप्रबंधनसेलगायतकाशीविद्यापीठकेकुलपतिवकुलसचिव,डीएमतकसेगुहारलगाचुकेहैं।सिर्फकोराआश्वासनमिलरहाहै।कहाकिपरीक्षाहोगीयानहींयहभीकोईबतानेवालानहींहै।इसेलेकरतीनोंकालेजोंकेछात्रएकबारफिरआंदोलनकीरूपरेखाबनानेमेंजुटेहुएहैं।बहरहालभविष्यकानूनीदांव-पेचमेंतीनसौमेडिकलछात्रोंफंसाहुआहै।