शारीरिक शिक्षा

संवादसहयोगी,लखीसराय:शहरकेनयाबाजारलालीपहाड़ीरोडस्थितबौद्धसर्किटविश्वनाथपुरमस्थितनाथपब्लिकस्कूलमेंसोमवारकोबौद्धधर्मकेसंस्थापकमहात्मागौतमबुद्धकीजयंतीमनाईगई।विद्यालयकीप्राचार्यविनीतासिन्हाकीअध्यक्षतामेंजयंतीकार्यक्रमहुआ।विद्यालयकेप्रबंधकनाथअमिताभनेकार्यक्रमकासंचालनकिया।नाथपब्लिकस्कूलकेडायरेक्टरविश्वनाथप्रसादनेकहाकिमहात्मागौतमबुद्धनेविश्वमानवताकेलिएअपनेधर्ममेंसामाजिक,आर्थिकबौद्धिक,राजनीतिक,समानताएवंस्वतंत्रताकीशिक्षादीहै।नाथपब्लिकस्कूलपरिवारभीमहात्माबुद्धकेसिद्धांतोंएवंविचारोंसेप्रेरितहै।उन्होंनेकहाकिमहात्मागौतमबुद्धकासिद्धांतऔरविचारविश्वमानवताकेलिएआजभीप्रेरणास्त्रोतहैं।छात्र-छात्राओंसेकहाकिजीवनमेंआगेबढ़नेकेलिएहरव्यक्तिकेलिएएकनिश्चितसिद्धांतएवंविचारहोताहै।सत्यऔरअहिसाकेरास्तेपरचलकरहीदुनियामेंबदलावलायाजासकताहै।उन्होंनेकहाकिइससांसारिकजीवनमेंसर्वत्रदुखहै।मनुष्यकाजीवनदुखोंवकष्टोंसेभराहै।इससेघबरानेकेबजाएपरिस्थितियोंसेलड़नेकीजरूरतहै।इससेपहलेसचिवविश्वनाथप्रसादनेशिक्षकोंवछात्र-छात्राओंकुमारीसंस्कृति,संजनसुमन,अंशुप्रिया,स्नेहाकुमारी,दिव्यांजलीकुमारी,अंजली,अभिलाषा,रूपम,रश्मि,मुस्कान,आरती,भाग्यश्री,राजनंदनी,पूजाकुमारीवचांदनीरानीकेसाथमहात्मागौतमबुद्धकीप्रतिमापरपुष्पांजलिअर्पितकरउन्हेंनमनकियातथाउनकेसिद्धांतोंपरचलनेकासंकल्पलिया।